पोखरे में पानी सुख जाने से पशु पक्षी हुवे बेहाल

रिपोर्टर- राजेश यादव 

महाराजगंज- मिठौरा ब्लाक में कई गांव ऐसा है जहाँ पोखरा सुख चुकी है वहाँ के पशु पक्षी हुवे बेहाल जहाँ पहले पोखरे की पानी नही सूखती थी लेकिन अब देखा जाय तो इस समय अप्रैल से मई महीने में ही सुख जा रही है जिससे गांव में रहने वाली गाय भैस पानी पीने या नहाने को बेहाल हो गए है जहाँ सरकार तलाब की खोज कर रही है लेकिन जो प्रजेंट टाइम में है उसपे नही ध्यान नही दे रही है जब हमारी डाक टाइम न्यूज़ की टीम मिठौरा ब्लाक में निकली तो हर जगर पोखरे सूखे मिले जहा पर एक गांव में अगर चार पोखरे है वहाँ पर तीन पोखरे सूखे मिल रही है और एक में पानी मिल रही है वो भी अगर एक महीने बारिस न हो तो वह भी सुख जायेगी और बात ये है कि जहाँ पोखरा है वहां भी उस पोखरे को धीरे धीरे भरा जा रहा है इसके हिसाब से अगर देखा जाय तो आठ से दस साल में गांव में पोखरा देखने को नही मिलेगा और पोखरे में पानी ना होने पर जो भी जिव जंतु है वे सब पानी के लिए पोखरे और नालियो की तलाश कर रही है लेकिन पानी नही मिल रही जो भी पोखरा आज तक कभी नही सुख रही थी वो पोखरा इस साल सब सुख गई है जिससे पशु पक्षी बेचैन हो गए है।

Spread The Love :

One Thought to “पोखरे में पानी सुख जाने से पशु पक्षी हुवे बेहाल”

Leave a Comment