Fri. Sep 25th, 2020

DakTimesNews

Sach Ka Saathi

मधुबन मार्केट के सामने बनी सड़क शुरू से रही विवादों में, नगर विकास मंत्री के आगे ‘श्री और मुख्यमंत्री का सीधे-सीधे नाम से संबोधन का लगा पत्थर

1 min read


TTS

रिपोर्ट-सन्दीप मिश्रा

उत्तर प्रदेश । एक तरफ विकास कार्यों में किसी भी प्रकार की हीला हवाली होने पर सख्त कार्यवाही के आदेश दिए जा रहे हैं । तो दूसरी तरफ रायबरेली नगर पालिका परिषद की ओर से सत्यनगर में बन रही इंटर लॉकिंग सड़क शुरू से ही विवादों के घेरे में रही है । जहां रोड के बनाए जाने के औचित्य पर ही स्थानीय नागरिकों ने सवाल खड़ा किया था। तो वहीं सीवर लाइन ना होने के बावजूद रोड का निर्माण करके सरकारी धन का दुरुपयोग किया जाना भी मोहल्ले वासियों को नागवारा गुजर रहा था। लेकिन तमाम शिकायतों के बाद भी आखिरकार रोड बनकर तैयार हो गई है। अब जब रोड बनकर तैयार हो गई है तो उसके लोकार्पण के लिए लगे पत्थर पर भी लोगों ने सवालिया निशान लगा दिए। क्योंकि नगर पालिका परिषद द्वारा राज्य वित्त आयोग योजना के अंतर्गत बनी इस सड़क पर लगे पत्थर में लिखा है श्री आशुतोष टंडन मा नगर विकास मंत्री और उसी के बगल में योगी आदित्यनाथ मा मुख्यमंत्री उ0 प्र0। इसी को लेकर सबसे बड़ा सवाल उठता है कि एक तरफ नगर विकास मंत्री के आगे 'श्री' शब्द का संबोधन किया गया है तो दूसरी तरफ प्रदेश के मुख्यमंत्री को सीधे-सीधे नाम से ही संबोधित करके पत्थर लगा दिया गया । वही सड़क कहां तक बनाई गई है इसका भी जिक्र पत्थर में किया है इसमें लिखा है कि मो. सत्य नगर में मधुबन मार्केट के सामने फारुकी के मकान से राम नारायण पांडेय व रामू के मकान तक रबर मोल्ड ई.ला. व नाली व आरसीसी पत्थर के कार्य का लोकार्पण मा आदिति सिंह सदर विधायक के कर कमलों द्वारा मा श्रीमती पूर्णिमा श्रीवास्तव अध्यक्ष न.पा. परि. रायबरेली की अध्यक्षता में संपन्न हुआ। जब इसमे लिखे नाम राम नारायण पांडेय के मकान के बारे मे स्थानीय सभासद वार्ड नंबर 32 रामखेलावन बारी से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि उनकी जानकारी में पत्थर पर लिखे नामों का उन्हें संज्ञान नहीं है। जबकि उसी पत्थर में उनका नाम सभासद के तौर पर और अधिशासी अधिकारी का नाम भी अंकित है । लेकिन स्थानीय लोग राम नारायण पांडेय के मकान को लेकर आश्चर्यचकित हैं। क्योंकि उनका कहना है कि जहां तक यह रोड बनी है। वहां पर इस नाम का कोई व्यक्ति का मकान ही नहीं है। वही रोड बनने से पहले सीवर की समस्या से आज भी लोग परेशान हैं। जिनको यह आश्वासन दिया गया है कि सीवर का कार्य प्रस्तावित है और जल्द ही इन सड़कों पर सीवर लाइन डाली जाएगी जिस पर स्थानीय लोगों का कहना है कि यदि सीवर का कार्य प्रस्तावित था तो फिर इतनी जल्दी क्या थी कि इस रोड को ध्वस्त करके फिर से बनाया जाए। जबकि यह रोड मोहल्ले की अन्य सड़कों की अपेक्षा बहुत हद तक दुरुस्त थी। वहीं सड़कों पर तमाम जगह पर नालियों का पानी और नाली बंद होने की भी स्थानीय लोगों की शिकायतें रही हैं। परंतु सभी को दरकिनार करके आखिरकार सत्य नगर मधुबन मार्केट के सामने की गली पर इंटरलॉकिंग का कार्य पूरा हो गया । जबकि पूरी गली साफ-साफ कहती रही कि ना तो मानक के अनुसार कार्य हो रहा है और ना ही इस कार्य से किसी का लाभ होने वाला है। क्योंकि जब सीवर का पानी सड़कों पर बहेगा तो गंदगी का अंबार साफ साफ दिखाई देगा। स्थानीय निवासियों ने जिला प्रशासन से मांग की है कि एक बार पुनः इस मामले की उच्च स्तरीय जांच कराई जाए।

Spread The Love :

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social menu is not set. You need to create menu and assign it to Social Menu on Menu Settings.

नवीनतम समाचार

Copyright © 2017-2020 All rights reserved. | Design & Developed By- SoftMaji